दिनेश देसाई (अदिसणानु परु)

दिनेश देसाई युवा नेता युवा भाजपा गुजरात और प्रतिष्ठित युवा नेता मालधारी समाज गुजरात।

3 मई को अहमदाबाद के ओधव में जन्मे, जिसका गृहनगर गांधीनगर जिले में कलोल तालुका का एक अदिसणानु परु गाँव है।

उनके पिता, श्री हरीशभाई जेठाभाई देसाई, खुद एक व्यवसायी और माता रावबेन हरीशभाई देसाई जो गृहकार्य से जुड़ी हैं। एक मामूली घर परिवार में जन्मे, जो नौजवान मालधारी समाज के युवाओं का दिल है, वह दिनेश देसाई है.

जिसका छोटा सा परिचय, जब से समझ आई, देश और समाज के लिए उनके दिल और दिमाग में कुछ करने की भावना देश की सेवा करने और समाज के पुनर्निर्माण की कोशिश करने लगे।

ऐसी खेती के साथ, युवा लोगों का एक बड़ा समूह कम उम्र में उन्हें जुलूस में शामिल हो गया।

कई युवा लोग उसके साथ जुड़ गए क्योंकि वह अपने अग्रणी काम के परिणामस्वरूप धीरे-धीरे उनकी शैली और व्यक्तित्व से प्रभावित थे.

समाज की आन, बान और शान के लिए हमेशा लड़ते रहते दिनेश देसाईने समाजहित के लिए अनेक आंदोलन किये, और अपनी सूज बुज से सभी आन्दोलनमे जित भी हासिल की, चाहे वो पाटनके कोंग्रेसी विधायक किरीट पटेल ने रबारी समुदाय ने विरुद्ध की हुई अभद्र टिप्पणी के मामलेमे गांधीजी के दिखाए राह पर आंदोलन करके मिडिया के सामने उनसे माफ़ी मगवाकर समस्त मालधारी समुदायके युवाओंका दिल जित लिया.  साथ ही, शहीद गौसेवक स्व: श्री राजुभाई खैरपुर नई हत्या के दौरान जो आंदोलन हुआ था, जिसमे मालधारी समुदाय के १३६ बेकसूर युवाओ को जेल में जाने के केवल पांच घंटेमें सरकारके सामने प्रस्तुत करके सभी को रिहा करवाया. इनसे इनका समुदाय में बहुत मान मिला. उसी समय, कई गाँवों में, गाय बचाओ गौचरो के नारे के साथ, कई गाँवों में आंदोलन चला और गौचर भूमि पर भूमिधारियों के अवैध दबाव को हटा दिया और उन्हें इस मुद्दे पर सरकार के सामने पेश किया। इसने सरकार और समाज के बीच एक समन्वय पुल बनाने का भी काम किया।

इसके साथ ही, वह समाज के कई संगठनों से भी जुड़े रहे हैं, जैसे कि गुजरात के विहोतर युवा समूह के प्रवक्ता और मालधारी सेना गुजरात के क्षेत्रीय अध्यक्ष की ज़िम्मेदारी भी। और समाज सेवा के कई कार्य जो ऐसे कई सामाजिक संगठनों के मूल में बने रहते हैं, समाज की मदद करते रहते हैं।

वह समाज के धार्मिक संस्थानों से भी जुड़े हैं, जिनमें धाम दुधरेज, रबारी समुदाय का स्थान, दुधई और जयराम स्वामी धाम टिटोड़ो और लक्ष्मी स्वामी धर्म जाक श्री विसात मेला धाम, अदिसणानु परु शामिल हैं।

कब दिनेशने उनके राजनैतिक कारकीदीकी शुरुआत की?

  • २००८ में वह ऐ.बी.वि.पि. के छात्र नेता बने|
  • २०१० में वह ओढव वार्ड के बूथ नंबर १८९ के अध्यक्ष बने|

मौजूदा सामाजिक पद

  • मालधारी सेना गुजरात के अध्यक्ष की जिम्मेदारी निभारहै है|
  • BJYM गुजरात प्रदेश के राज्य कार्यकारिणी सदस्य

  • इन चार्ज, पाटण जिला BJYM गुजरात प्रदेश

????? ?????

  • ?????? ?? ????? ?? ?????? ??????? ???????? ????? ?? ??? ???????? ????? ??????
  • ????? ?? ????????? ?????? ?? ????? ???? ???? ?? ???? ?????
  • ???????????? ?? ?????????? ?????
  • ???? ??????? ?????? ????? ???? ?? ???